डिप्रेशन से बाहर निकालने के कुछ आयुर्वेदिक उपाय होंगे कारगर !

AnxietyAyurvedic MedicineDepressionHindi

डिप्रेशन से बाहर निकालने के कुछ आयुर्वेदिक उपाय होंगे कारगर !

  • May 27, 2023

  • 210 Views

आयुर्वेदिक दवाइयों की बात करे या उपाय की ये पुरातन समय से ही चलती आ रही है और इसका व्यक्ति को फायदा भी अच्छे से होता है और इसका उपयोग करने से किसी भी बीमारी का खात्मा भी जड़ से होता है। तो वही आज के आर्टिकल में हम आयुर्वेदिक दवाइयों के बारे में ही बात करेंगे की कैसे इसकी मदद से मानसिक तनाव से व्यक्ति बिना किसी नुकसान के छुटकारा पा सकता है। तो चलिए शुरुआत करते है आर्टिकल की ;

डिप्रेशन की समस्या क्या है ?

इसकी समस्या क्या है इसके बारे में हम निम्न में बात करेंगे ;

  • डिप्रेशन एक मूड डिसऑर्डर है, जो व्यक्ति में लगातार उदासी और अरुचि की भावना का कारण बनती है। 
  • इसे नैदानिक अवसाद भी कहा जाता है। आप कैसा महसूस करते हैं, क्या सोचते हैं और कैसा व्यवहार लोगो के साथ करते हैं, इन सब पर डिप्रेशन का असर पड़ता है। 
  • इसकी वजह से भावनात्मक और शारीरिक समस्याएं भी पैदा हो जाती हैं।
  • डिप्रेशन में व्यक्ति निराश, दुखी, हताश महसूस करते हैं और दूर-दूर तक उम्मीद की कोई किरण उन्हें दिखाई नहीं देती है। तो वही आप भी ऐसा महसूस कर रहे है, तो बेस्ट आयुर्वेदिक क्लिनिक पर एक बार जरूर विजिट करे।

डिप्रेशन की वजह से क्या-क्या परेशानियां होती है ?

डिप्रेशन की वजह से निम्न परेशानियां होती है, जैसे ;

  • दिन भर और खासकर सुबह के समय उदासी का आना। 
  • लगभग हर दिन थकावट और कमजोरी महसूस करना।
  • स्वयं को अयोग्य या दोषी मानना।
  • एकाग्र रहने तथा फैसले लेने में कठिनाई का सामना करना।
  • लगभग हर रोज़ बहुत अधिक या बहुत कम सोना।
  • सारी गतिविधियों का असफल होना।
  • बार–बार मृत्यु या आत्महत्या के विचारों का दिमाग में घूमना।

अगर आप आयुर्वेदिक तरीके से डिप्रेशन का इलाज करवाना चाहती है तो फ़ौरन बेस्ट आयुर्वेदिक डॉक्टर से सम्पर्क करे।

डिप्रेशन से निजात पाने के आयुर्वेदिक तरीके क्या है ?

इससे निजात पाने के निम्न आयुर्वेदिक तरीके है कारगर ;

  • हर दिन लगभग 20 मिनट का ध्यान जरूर करें। 
  • एक अच्छी और प्रयाप्त नींद ले। 
  • नियमित दिनचर्या का पालन करे। 
  • घर से बाहर निकलें और सूरज की रोशनी के सम्पर्क में आए। 
  • सामान्य रूप से जीवन में उत्साहित महसूस करने के लिए सूर्य के संपर्क में व्यायाम करे। पैदल चलने और साइकिल चलाने जैसे व्यायाम समग्र संतुलन और स्वास्थ्य में सुधार करने में भी उपयोगी हैं। 
  • एक स्वस्थ और फिट बॉडी निश्चित रूप से बेहतर मूड के लिए फायदेमंद होता है। 
  • पौष्टिक भोजन खाएं. पैक, डिब्बाबंद और संसाधित भोजन से बचें। अपने आहार में भुने या भिगोए हुए नट्स और बीज शामिल करें। 
  • काली मिर्च, सूखा अदरक, हल्दी, आमला, लौंग, और इलायची जैसे खाद्य पदार्थों को ऊपर उठाने का प्रयास करें। अश्वगंधा, शतवरी, ब्राह्मी जैसे जड़ी-बूटियां डिप्रेशन को ठीक करने में अत्यधिक उपयोगी होती हैं।

सुझाव :

आयुर्वेद में हर बीमारी का इलाज है फिर वो कोई भी क्यों न हो। उपरोक्त हमने डिप्रेशन को आयुर्वेद की मदद से कैसे ठीक कर सकते है इसके बारे में जाना। तो वही आप भी अगर डिप्रेशन से ग्रस्त है तो दीप आयुर्वेदिक हॉस्पिटल से आयुर्वेद के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल कर सकते है।

निष्कर्ष :

जैसे की हमे पता है की आयुर्वेद में हर तरह की बीमारी का इलाज है बस हमे बीमारी के बारे में पता होना चाहिए। इसके अलावा आप भी अगर डिप्रेशन की समस्या से ग्रस्त है तो उपरोक्त बातो को जरूर प्रयोग में लाए।