डायबिटीज व हार्ट अटैक के रोगियों के लिए कैसे मददगार है आयुर्वेदिक औषधियाँ ?

निसंतान-जोड़ो-को-आयुर्वेदिक-ने-दिया-संतान-प्राप्ति-का-वरदान-!
AyurvedaAyurvedic

डायबिटीज व हार्ट अटैक के रोगियों के लिए कैसे मददगार है आयुर्वेदिक औषधियाँ ?

  • August 19, 2023

  • 111 Views

आयुर्वेद को हर रोग का खात्मा करने का बेहतरीन वरदान मिला हुआ है, बसर्ते की आपको इन औषधियों को समय पर लेने की जरूरत है, वहीं ये बात तो हम सभी जानते है की हर बीमारी का इलाज आयुर्वेद में मौजूद है, तो इन्ही बीमारियों को ध्यान में रखते हुए हम आज के लेख में चर्चा करेंगे की कैसे आयुर्वेद में डायबिटीज व हार्ट अटैक जैसे भयंकर रोग का भी इलाज विद्यमान है, तो शुरुआत करते है लेख की और जानते है इसके इलाज के बारे में ;

क्या है डायबिटीज और हार्ट अटैक का आपसी सम्बन्ध ?

  • दूनिया भर में हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट के मामले तेजी से बढ़ रहे है। ऐसे में यदि आपको डायबिटीज है तो आपके लिए उन लोगों की तुलना में दिल का दौरा या स्ट्रोक का खतरा दोगुना होता है, जो मेटाबॉलिज्म संबंधी बीमारियों से पीड़ित नहीं होते है।
  • दरअसल, हाई शुगर लेवल समय के साथ खून की नलियों और हृदय की नसों को नुकसान पहुंचाने का काम करता है।
  • बेस्ट आयुर्वेदिक डॉक्टर की मदद से इनके बीच के संबंध को आप और अच्छे से जान सकते है।

कौन-सी आयुर्वेदिक औषधियाँ मददगार है डायबिटीज व हार्ट अटैक की समस्या को सुधारने में ?

  • शुंठी जिसे सोंठ पाउडर के नाम से भी जाना जाता है, वहीं इस ताजे पीसे हुए सोंठ पाउडर (सूखा अदरक) को हार्ट और मेटाबॉलिज्म में सुधार करने वाले एक बेहतरीन हर्ब के रूप में जाना जाता है। इसके सेवन से सूजन की परेशानी नहीं होती है। जिससे हार्ट अटैक समेत कई तरह की जानलेवा बीमारियों का जोखिम कम हो जाता है। वहीं शुंठी  पाउडर को आप आधा चम्मच भोजन से पहले दिन में एक बार गर्म पानी के साथ ले सकते है।
  • पुनर्नवा एक तरह की जड़ी-बूटी है जो मूत्रवर्धक के रूप में काम करती है। इसके सेवन से ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल लेवल आसानी से कम किया जा सकता है। यह लीवर, किडनी और आंखों के लिए भी अच्छा माना जाता है। इसके साथ ही यह मेटाबॉलिज्म में भी सुधार करता है।
  • इंसुलिन संवेदनशीलता, पाचन में सुधार करने, गंदे कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करता है। इससे आपको विशेष रूप से वरिष्ठ नागरिकों में दिल के दौरे को रोकने में मदद मिलती है, बस रोजाना सुबह 1 काली मिर्च का सेवन आपको करना है, जिससे आपकी डायबिटीज व हार्ट अटैक की समस्या को ठीक किया जा सकता है।
  • इलायची अपने स्वाद और सुगंध के कारण अक्सर सबका दिल जीत लेती है। अपने इन गुणों के अलावा ये दिल की सेहत और मीठे खाद्य पदार्थों के लिए क्रेविंग को कम करके शुगर लेवल को बेहतर बनाने के लिए भी जानी जाती है। इसके साथ ही बार-बार प्यास लगने जैसे डायबिटीज के लक्षण से भी छुटकारा दिलाने का काम करती है।
  • अगर आप हार्ट डिजीज से बचाव के साथ-साथ उसकी कार्यप्रणाली में सुधार के लिए अर्जुन-छाल जैसी जड़ी-बूटी का प्रयोग करते है तो इससे ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल से लेकर टैचीकार्डिया तक हर तरह की दिल की समस्या दूर रहती है। वहीं आप चाहें तो नियमित रूप से सोने से पहले इसके चाय का सेवन भी कर सकते है।

आप चाहें तो इन जड़ीबूटियों को बेस्ट आयुर्वेदिक क्लिनिक से जाकर भी लें सकते है या इन सब प्रदार्थो से बनी दवाई भी आप लें सकते है।

सुझाव :

डायबिटीज व हार्ट अटैक की समस्या आने पर जरूरी है की इसके इलाज के लिए आपको जल्द डॉक्टर का चयन करना चाहिए, और इसमें आपको किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए।