इन पांच आयुर्वेदिक उपायों को अपनाने से इम्यूनिटी होगी मजबूत और बीमारी होगी छूमंतर !

इन पांच आयुर्वेदिक उपायों को अपनाने से इम्यूनिटी होगी मजबूत और बीमारी होगी छूमंतर !
AyurvedaAyurvedic

इन पांच आयुर्वेदिक उपायों को अपनाने से इम्यूनिटी होगी मजबूत और बीमारी होगी छूमंतर !

  • August 7, 2023

  • 103 Views

इम्यूनिटी का ठीक होना हमारे सेहत के लिए बहुत जरूरी है, क्युकी मजबूत इम्यून सिस्टम ही तंदरुस्त सेहत की निशानी है। पर चिंतन में न बैठे अगर किसी कारणवश आपका इम्यून सिस्टम कमजोर भी हो गया हो, वहीं इम्युनिटी को मजबूत करने के लिए आयुर्वेद में बहुत ही खास उपाय है, जिसका सहारा लेकर आप कमजोर से कमजोर इम्युनिटी को चुटकियों में ठीक कर सकते है, तो चलिए जानते है इम्युनिटी बूस्ट करने के आयुर्वेदिक उपायों के बारे में ;

इम्यूनिटी कमजोर होने के क्या कारण है?

  • ज्यादा मीठा खाने वाले लोगों में इम्युनिटी कम होने के कारण नज़र आते है, इसलिए जरूरी है की कम मीठे का सेवन किया जाए। 
  • ज्यादा ऑयली चीजे खाने वालों में भी इम्युनिटी कमजोर के कारण नज़र आते है। 
  • प्रोस्टेड मीट खाने से भी इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। 
  • प्रयाप्त नींद न लेने से भी इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। 
  • ख़राब दिनचर्या भी आपमें इम्युनिटी को कमजोर करती है। 
  • स्मोकिंग और अन्य नशीली चीजों का सेवन करने से भी इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। 
  • फ़ास्ट फ़ूड खाने वालों में भी इम्यून सिस्टम कमजोर होने का प्रमुख कारण है।

इम्यूनिटी कमजोर होने से क्या बीमारियां होती है ?

  • इम्यून सिस्टम कमजोर होने से सबसे पहले तो बदलते हुआ मौसम आपको अपनी गिरफ्त में ले लेता है। 
  • फिर आपको पेट संबंधी समस्याएं भी हो सकती है। 
  • सर्दी जुखाम भी आपको बदलते हुए मौसम में होता है। इसलिए जरूरी है की आप इस मौसम में अपना खास ध्यान रखें।

बेस्ट आयुर्वेदिक क्लिनिक की मदद से भी आप इस तरह की समस्या से खुद का बचाव कर सकते है।

आयुर्वेद की मदद से इम्यूनिटी कैसे करें मजबूत ?

  • इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए हल्दी वाले दूध का सेवन करें। क्युकी आयुर्वेद में हल्दी को औषधीय गुणों का खजाना कहा जाता है। और हल्दी एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर भी होती है।  
  • आयुर्वेद में गिलोय का इस्तेमाल औषधि के रूप में सदियों से मिलता आ रहा है। गिलोय में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते है, जो इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते है। नियमित रूप से गिलोय का सेवन करने से आप संक्रमण और कई बीमारियों से बच सकते है। आप चाहे तो रोज सुबह खाली पेट गिलोय के जूस या काढ़े का सेवन कर सकते है।
  • लहसुन का सेवन करने भी आप अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत कर सकते है। 
  • आयुर्वेद में अश्वगंधा का प्रयोग कई समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। वहीं अश्वगंधा तनाव के स्तर को कम करने में प्रभावी माना जाता है। इसके नियमित सेवन से मस्तिष्क के स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ता है और इम्यूनिटी भी मजबूत होती है। 
  • आयुर्वेद में काढ़े का प्रयोग शरीर में तमाम समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। काढ़ा कई तरह की जड़ी-बूटियों और मसालों को मिलाकर तैयार किया जाता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भरपूर मात्रा में होते है। यह शरीर की सूजन को दूर करने में भी मदद करता है। नियमित रूप से काढ़ा पीने से सर्दी-खांसी और जुकाम आदि समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। आप काढ़े को बनाने के लिए तुलसी, लौंग, अदरक और दालचीनी आदि का प्रयोग कर सकते है। 
  • आप योग-व्यायाम करके भी अपनी इम्युनिटी को मजबूत कर सकते है।

आयुर्वेद में किसी भी तरह के उपायों को अपनाने से पहले एक बार बेस्ट आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बेस्ट आयुर्वेदिक हॉस्पिटल :

इम्युनिटी को आयुर्वेद की मदद से किस तरह से बढ़ा सकते है इसके बारे में हम उपरोक्त आपको बता चुके है, वहीं जब उपरोक्त उपाय काम न करें तो इसके लिए तो आपको दीप आयुर्वेदा हॉस्पिटल का चयन करना चाहिए। 

सुझाव :

इम्युनिटी को मजबूत बनाने के लिए जरूरी है की अपने खान-पान का अच्छे से ध्यान रखें और तली, भुनी और मीठी चीजों से दुरी बनाकर रखे।

निष्कर्ष : 

शरीर में इम्युनिटी का ठीक होना बहुत जरूरी है, और इसको मजबूती कैसे दे सकते है इसके बारे में हम उपरोक्त बता चुके है। इसलिए जरूरी है की इम्युनिटी का आपके द्वारा खास ध्यान रखा जाए।