बिना एक्सरसाइज व डाइटिंग के कैसे घटाए वजन, वो भी सात्विक आहार की मदद से ?

weight-loss-through-balanced-diet
Ayurvedic

बिना एक्सरसाइज व डाइटिंग के कैसे घटाए वजन, वो भी सात्विक आहार की मदद से ?

  • September 11, 2023

  • 14 Views

अगर आप चाहते है की आपका वजन कम रहें, तो इसके लिए आपको आज से ही सात्विक भोजन करना शुरू कर देना चाहिए। वहीं अगर आप इस तरह के आहार को अपने दैनिक दिनचर्या में शामिल करते है तो वो दिन दूर नहीं की आपका वजन कम होने लगेगा। इसके अलावा सात्विक भोजन में क्या-क्या आता है, और इसको कैसे लिया जाता है और साथ ही ये वजन को कम करने में कैसे सहायक है इसके बारे में आज के लेख में चर्चा करेंगे ;

क्या है सात्विक आहार ?

  • आयुर्वेद की बात करें, तो इसमें विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों का जिक्र मिलता है, इसमें तामसिक, राजसिक और सात्विक भोजन के बारे में बताया गया है। इसमें सात्विक आहार को सेहत के लिए सबसे फायदेमंद माना जाता है। 
  • वजन कम करने से लेकर शरीर को स्वस्थ बनाए रखने तक के लिए सात्विक आहार के सेवन की आदत विशेष लाभप्रद मानी जाती है। सात्विक आहार हल्के और पौष्टिक होते है, जो आसानी से पच जाते है। 
  • डेयरी उत्पादों से लेकर  फल, सब्जियां, अनाज, मसाले और नट्स, सात्विक आहार का ही हिस्सा माने जाते है। 

सात्विक आहार के बारे में विस्तार से जानने के लिए आप बेस्ट आयुर्वेदिक डॉक्टर से भी जानकारी लें सकते है।

सात्विक आहार में कौन-कौन सी खाने की चीजें शामिल है ?

  • सात्विक भोजन में भरपूर मात्रा में हरी सब्जियां फल शहद, गुड़, साबुत अनाज को शामिल किया जाता है। यह शाकाहारी और कम मसाले वाले भोजन होते है, इसमें लहसुन-प्याज भी नहीं होता है, पूजा-पाठ ईश्वर को भोग लगाने के लिए लोग सात्विक भोजन ही बनाते है। 
  • इसके अलावा इसमें चावल, गेहूं, जौ, दाल- मूंग, मसूर, चना या कोई भी दाल, पालक, लौकी, तोरी या हरी सब्जियां कुछ भी, ताजा फल- केला, सेब, संतरा, अनार, अंगूर, मेवे- कच्चे या हल्के भुने मेवे और सीड्स, डेयरी प्रोडक्ट- छाछ, दही, मक्खन, घी और दूध, तेल- नारियल तेल, जैतून तेल और तिल तेल, मसाले- अदरक, दालचीनी, इलायची, सौंफ, धनिया और हल्दी को सात्विक आहार में शामिल किया जाता है। 

वजन कम करने में कैसे मददगार है सात्विक आहार ?

  • दरअसल, सात्विक खाने में बहुत कम मात्रा में तेल और मसालों का इस्तेमाल किया जाता है, इसीलिए यह वजन कम करने में काफी अच्छा माना जाता है।  
  • डाइटिशियन बताते है कि सात्विक भोजन में कच्ची सब्जियां, फल और नट्स शामिल होते है, इनमें न के बराबर फैट होता है। 
  • इसके अलावा इसमें फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है, क्युकी इसमें फाइबर को ही वजन कम करने में काफी मददगार माना जाता है। क्युकी फाइबर की वजह से लंबे समय तक भूख नहीं लगती और पेट भरा सा रहता है, इसकी वजह से एक्स्ट्रा फूड और जंक फूड खाने से आप बच जाते है और आपका वजन भी कंट्रोल में रहता है। 
  • वहीं सात्विक आहार को तैयार करने के लिए इसमें कच्चे/हल्के उबले हुए फल और सब्जियां खाने की सलाह दी जाती है। वहीं ये फल और सब्जियां पाचन को ठीक रखने के साथ शरीर में अतिरिक्त फैट के जमाव को रोकते है, जिससे वजन को कंट्रोल में रखने में काफी मदद मिलती है।

सात्विक आहार में किन चीजों का सेवन भूल कर भी न करें !

  • सात्विक आहार में आपको नमकीन और खट्टे खाद्य पदार्थ, चाय, कॉफी, शराब, प्याज और लहसुन, जमे हुए भोजन, फास्ट फूड, माइक्रोवेव किए गए खाद्य पदार्थ, प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, मांस, मछली, अंडे और बचा हुआ या पहले से तैयार किए भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अगर आप सात्विक आहार का सेवन न करने के कारण शारीरिक रूप से स्वास्थ्य नहीं है, तो इससे बचाव के लिए आपको बेस्ट आयुर्वेदिक क्लिनिक का चयन करना चाहिए।

सात्विक आहार के फायदे क्या है ?

  • सात्विक आहार के सेवन के कई प्रकार के फायदे है। जैसे – वजन कम करने, पाचन को बेहतर रखने के साथ मस्तिष्क को स्वस्थ और फिट बनाए रखने के लिए इसका नियमित सेवन करना विशेष लाभकारी हो सकता है। 
  • वहीं यह आहार शरीर से अपशिष्टों को बाहर निकालने के साथ आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति करने और शरीर को फिट बनाए रखने में आपके लिए विशेष सहायक है। यही कारण है कि स्वास्थ्य विशेषज्ञ सभी लोगों को स्वस्थ और पौष्टिक चीजों का सेवन करने पर जोर देते है। 
  • इसके अलावा, सात्विक आहार एक स्वस्थ आहार दिनचर्या मस्तिष्क को ऊर्जा, शांति और संतुष्टि के साथ बढ़ावा देते है।

सुझाव :

अगर आप चाहते है की आपका वजन नियंत्रित रहें, तो इसके लिर आपको सात्विक आहार का सेवन करना चाहिए, यदि आप इस तरह के भोजन का सेवन करते है तो कुछ ही दिनों में आपके वजन में काफी सुधार नज़र आएगा। 

इसके अलावा अगर आप चाहते है की आपके सेहत का अच्छे से सुधार हो तो इसके लिए आप दीप आयुर्वेदा हॉस्पिटल का भी चयन कर सकते है।

निष्कर्ष :

अगर आपके सेहत में किसी भी तरह की समस्या आ जाए, बढ़े हुए वजन के कारण, तो इसके लिए जरूरी है की आपको उपरोक्त बातों का खास ध्यान रखना चाहिए और जितना हो सकें आप सात्विक आहार को ही अपनी दिनचर्या में शामिल करें।