तंदुरुस्त सेहत के लिए अपनाएं 5 आयुर्वेद की बेहतरीन डाइट टिप्स !

Origins And Benefits Of Ayurveda
Hindi

तंदुरुस्त सेहत के लिए अपनाएं 5 आयुर्वेद की बेहतरीन डाइट टिप्स !

  • September 5, 2023

  • 43 Views

आयुर्वेद में हर बीमारी से लेकर हर सेहत स्वास्थ्य का राज आज भी इसमें मौजूद है, इसलिए अगर आप शारीरिक रूप से स्वास्थ्य रहना चाहते हो तो इसके लिए आपको आयुर्वेद की डाइट चार्ट को जरूर आजमाना चाहिए, वहीं आयुर्वेद में हर तरह की समस्या व सेहत कमजोरी से जुड़े तमाम समस्याओं का हल इसमें मौजूद है, तो चलिए जानते है अपने सेहत को कैसे आयुर्वेद की मदद से ठीक रख सकते है ;

आयुर्वेद का हमारे सेहत पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

  • आयुर्वेद शरीर को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभाते है। आयुर्वेद को फॉलो करने से कई तरह की बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है। 
  • वहीं हमारे रूटीन का सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता है। और कई लोग लगातार अनियमित लाइफस्टाइल फॉलो करते है। इसकी वजह से शरीर में कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ता है। 
  • आयुर्वेद के अनुसार हेल्दी लाइफस्टाइल फॉलो करने से कई तरह की बीमारियों के खतरे से बचा जा सकता है। 
  • इसके अलावा शरीर को स्वास्थ्य रखने के लिए सही मात्रा में खाने से और फिजिकल एक्टिविटी पर ध्यान देने से शरीर को लंबे समय तक स्वस्थ रखा जा सकता है। 
  • अगर आप भी शारीरिक रूप से स्वास्थ्य रहना चाहते है, तो इसके लिए आपको बेस्ट आयुर्वेदिक डॉक्टर का चयन करना चाहिए, और आयुर्वेद में जिन बातों का ध्यान रखा जाता है उन्हे भी आप अपनाए। 

शरीर को स्वास्थ्य रखने के लिए कौन-सी डाइट चार्ट`का रखें खास ध्यान ? 

  • अगर आप पूर्ण रूप से स्वास्थ्य रहना चाहते है, तो आपको जब भूख लगें तब ही आप खाना खाएं। ऐसा अगर आप करते है, तो आपका वजन कंट्रोल होने के साथ शरीर भी हेल्दी रहता है। भूख लगने पर खाने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है और पाचन-तंत्र भी दुरुस्त रहता है। भूख लगने पर खाने से कब्ज, गैस और अपच की समस्या से भी व्यक्ति दूर रहता है।
  • उम्र के हिसाब से खाने का करें सेवन, क्युकी अगर आप ऐसा करते है तो आपको किसी भी तरह की बीमारी का सामना नहीं करना पड़ता है। वहीं खाने की बात करें तो अगर आप बुजुर्ग है, तो ऐसी चीजों को खाने से बचें, जो पचने में मुश्किल हो। वहीं बच्चों को ऐसे फूड्स खाने में दें। जिससे उनका विकास ठीक ढ़ंग से हो। अगर आप फिजिकल वर्क ज्यादा करते है, तो डाइट में प्रोटीन युक्त खाने को शामिल करना न भूले।
  • अगर आप अपने शरीर को स्वास्थ्य रखना चाहते है, तो आपको अपने शरीर के हिसाब से खाने का चुनाव करना चाहिए, जैसे अगर आप पतले है, तो डाइट में प्रोटीन रिच फूड्स को शामिल करें। वहीं, अगर आपका वजन ज्यादा है, तो डाइट में ऐसे फूड्स को शामिल करें जिसमें फाइबर की मात्रा ज्यादा हो, क्योंकि ऐसा करने से आपका पेट लंबे समय तक भरा रहेगा।
  • स्वस्थ रहने के लिए इस बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी है, की आप किस मौसम में कौन-सा भोजन कर रहे है। वहीं कई बार लोग बिन मौसम चीजों को खाते है, जो शरीर के लिए हानिकारक होने के साथ कई तरह की बीमारियों को भी न्यौता देती है। जैसे हरे पत्तेदार सब्जियों को मॉनसून में खाना से बचना चाहिए क्योंकि इस समय इनमें कीडे होने की संभावना काफी ज्यादा हो जाती है। 
  • अगर आप अपने शरीर को वाकई में स्वास्थ्य रूप में देखना चाहती है, तो इसके लिए आपको भोजन करते समय तनाव लेने से बचना चाहिए। क्युकि तनाव लेने से खाना ठीक से पचता नहीं है। कब्ज की समस्या हो सकती है, ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। वहीं अगर आप खाना खाने जा रहें है तो इसके लिए आपको आरामदायक और हवादार जगह का चुनाव करना चाहिए। और खास बात खाते समय मोबाइल, टीवी से दुरी बनाकर रखें।

इन उपायों को अपनाने के बाद भी आपका शरीर स्वास्थ्य नहीं रहता, तो इसके लिए आप बेस्ट आयुर्वेदिक क्लिनिक के संपर्क में आए।

सुझाव :

  • शरीर कुदरत के द्वारा बनाया गया बहुत ही अजीज तोफा है, इसलिए जरूरी है की इसमें किसी भी तरह के नुस्क दिखे तो इसके लिए आपको जल्द डॉक्टर का चयन करना चाहिए और साथ ही उपरोक्त स्वास्थ्य आयुर्वेदिक डाइट का भी खास ध्यान रखें। 
  • इसके अलावा इन डाइट चार्ट को आजमाने के बाद भी आपको कोई फर्क नज़र नहीं आ रहा है, तो इससे बचाव के लिए आपको दीप आयुर्वेदशाला क्लिनिक का चयन करना चाहिए, ताकि आपकी समस्या का हल आपको मिल सकें।